What are the main changes from Ist august

What are the Main changes in Indian financial market  From 1 august 2021, points to keep in mind while doing banking activities, जानिए 1 अगस्त से कौन्स से बड़े बदलाव हो गए हैं भारतीय बाजार में, किन बातो का ध्यान रखना होगा अब हमे .

all about What are the main changes from Ist august in hindi and englsh
What are the main changes from Ist august

Now from Ist of august 2021, 5 main changes are done in 5 sectors in Indian bazaars. Everyone must know about these changes to not bear any loss. 

अब 1 अगस्त २०२१ से 5 बड़े बदलाव किये गए हैं भारत में जिसके बारे में हम सभी को जानकारी होनी चाहिए अन्यथा परेशानी होगी |

  1. Changes in Salary and EMI payments/ वेतन और ईएमआई भुगतान में परिवर्तन  
  2. Changes in policy of ATM cash withdrawals cost/ एटीएम नकद निकासी लागत की नीति में परिवर्तन
  3. ICICI Bank  revised charges/ आईसीआईसीआई बैंक के नियम में संशोधन 
  4. IPPB to revise banking charges/ आईपीपीबी की  बैंकिंग शुल्क में संशोधन 
  5. Changes in LPG Cylinder prices/ एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में बदलाव

Let’s see the details of changes

Watch video here:

1. Changes in Salary and EMI payments/ वेतन और ईएमआई भुगतान में परिवर्तन:

अब 1 अगस्त 2021 से छुट्टि के दिन भी ईएमआई कटेगी। भारतीय रिजर्व बैंक ने घोषणा की है कि अब national clearing house प्रतिदिन कार्य करेगा। इससे उपभोक्ता को समय पर बिल का भुगतान करने में मदद मिलेगी।

2. Changes in policy of ATM cash withdrawals cost/ एटीएम नकद निकासी लागत की नीति में परिवर्तन:

From Ist of august, if we withdraw money from other bank ATM then we have to pay 17 per transaction, earlier it was rs 15.

1 अगस्त से अगर हम दूसरे बैंक के एटीएम से पैसे निकालते हैं तो हमें प्रति ट्रांजैक्शन 17 देना होगा, पहले यह 15 रुपये था।

3. ICICI Bank revised charges/ आईसीआईसीआई बैंक के नियम में संशोधन:

With effect from Ist of august 2021, icici bank has also revised charges in banking activities like now we can use only 4 checks freely in a month, after that we have to pay Rs 150 per transaction i.e. on withdrawal and deposit. 

1 अगस्त 2021 से, आईसीआईसीआई बैंक ने बैंकिंग गतिविधियों में शुल्कों को भी संशोधित किया है जैसे अब हम एक महीने में केवल 4 चेक का स्वतंत्र रूप से उपयोग कर सकते हैं, उसके बाद हमें प्रति लेनदेन 150 रुपये का भुगतान करना होगा यानी निकासी और जमा पर।

4. IPPB to revise banking charges/ आईपीपीबी की  बैंकिंग शुल्क में संशोधन

With effect from 1 august 2021, now customers of Indian post payments bank(IPPB) have to pay additional charges to use the doorstep services with GST. 

1 अगस्त 2021 से, अब आईपीपीबी के ग्राहकों को डोरस्टेप सेवाओं का उपयोग करने के लिए अतिरिक्त शुल्क का भुगतान करना होगा जी एस टी के साथ ।

5. Changes in LPG Cylinder prices/ एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में बदलाव

With effect from ist of august 2021, Fuel companies will revise the prices of LPG at the starting of every month as per the price of crude oil. 

अगस्त 2021 के प्रभाव से, ईंधन कंपनियां कच्चे तेल की कीमत के अनुसार हर महीने की शुरुआत में एलपीजी की कीमतों में संशोधन करेंगी।

So these are the main 5 changes which Indian public must accept from Ist of august 2021.

Do make your plan accordingly to avoid any losses, make your budget by keeping in mind the above changes. 

तो ये हैं मुख्य 5 बदलाव जिन्हें भारतीय जनता को 1 अगस्त 2021 से स्वीकार करना होगा ।

किसी भी तरह के नुकसान से बचने के लिए अपनी योजना उसी के अनुसार बनाएं, उपरोक्त परिवर्तनों को ध्यान में रखते हुए अपना बजट बनाएं।

What are the Main changes in Indian financial market  From 1 august 2021, points to keep in mind while doing banking activities, जानिए 1 अगस्त से कौन्स से बड़े बदलाव हो गए हैं भारतीय बाजार में, किन बातो का ध्यान रखना होगा अब हमे .

how to fix ads.txt file error and google sellers json error in blogger for adsense

how to fix ads.txt file error in blogger for adsense, fixing google sellers json error in blogger for AdSense, step by step tutorial with video.

When any blogger get approval of AdSense first time then 2 error are common which are seen while signing in in adsense account. 

  1. to put the ads.txt file in blogger
  2. to fix google sellers json file
Here in this article we will see the steps to fix those error. You can also check video for live fixing of 2 error to earn without any problem through google adsense.
all about how to fix ads.txt file error in blogger for adsense
how to fix ads.txt file error and google sellers json error in blogger for adsense

How do I fix ads TXT in Blogger for problem-free adsense running?

Please follow the following steps to fix ads.txt error:
  1. First of all Sign in to Blogger.
  2. Know check the setting option in left menu bar.
  3. Find the "Monetization," option and then on the button right side.
  4. Know Click on Custom ads. txt, a popup will open.
  5. Download the ads.txt file from adsense account and copy the code and then paste in the popup.
  6. Save it and you are done.
Watch video here:

How do I fix google sellers json error in AdSense account?

fixing google sellers json error in adsense
fix google sellers json error


when any blogger gets approval from google adsense then 2 errors commonly come. First is of ads.txt file which we have seen above and next is google sellers json file error. So now we will see the step to fix this error.
  1. when you see the error of json file then click on action button below and you will get a page containing information's about your account. 
  2. Go to seller information visibility option.
  3. Know select your visibility status as "TRANSPERANT".
  4. You are done.
So simple to fix this problem.

so hope bloggers have got step by step process to fix 2 important problems after getting approval from google adsense. 

Happy earning and enjoy life. 

how to fix ads.txt file error in blogger for adsense, fixing google sellers json error in blogger for AdSense, step by step tutorial with video.

Kyu Lagti Hai Shiv Mandiro Mai Bheed Shrawan Ke mahine Mai

shravan month importance as per astrology, Kyu Lagti Hai Shiv Mandiro Mai Bheed Shrawan Ke mahine Mai
Kyu Lagti Hai Shiv Mandiro Mai Bheed Shrawan Ke mahine Mai
Kyu Lagti Hai Shiv Mandiro Mai Bheed Shrawan Ke mahine Mai

क्यों लगती है श्रावण महीने में शिव मंदिरों में भीड़ :

श्रावण महीने को सावन मास भी कहते हैं और ये महिना भारतीयों के लिए विशेषकर बहुत ही महत्त्व रखता है |

ये एक पवित्र महिना है और इस महीने में विशेषकर शिव भक्त बहुत ही हर्षोल्लास के साथ शिव मंदिर में पूजा अर्चना करते हैं | 

सावन का महिना भगवान् शिव को बहुत ही प्रिय है इसीलिए पूरी दुनिया में जितने भी शिव भक्त है सभी श्रावण के महीने में भगवन शिव की पूजा में लगे रहते हैं उनकी कृपा प्राप्त करने के लिए, अपनी मनोकामना पूरी करने के लिए.

आइये जानते हैं 6 महत्त्वपूर्ण बाते सावन महीने को लेके :

  1. इस महीने की शुरुआत भारत में बारिश के मौसम के आगमन का संकेत देती है |
  2. सावन का महिना शिव उपासना के लिए सबसे अच्छा महिना माना जाता है |
  3. सावन महीने में कावड यात्रा भी निकलती है अर्थात भक्त लोग पवित्र नदी से जल लेके शिवलिंग पे चढाते हैं |
  4. सावन के महीने में जो मंगलवार आते है उसमे माता पार्वती की पूजा होती है और इस दिन मंगला गौरी का व्रत किया जाता है | इस दिन महिलाए अपने सुखी जीवन के लिए पूजा करती है |
  5. सावन के महीने में 2 एकादशी आती है एक है कामिका एकादशी और दूसरा है पुत्रदा एकादशी, ये दोनों एकादशी का व्रत और पूजन बहुत पुण्य देता है |
  6. नाग पंचमी भी श्रावण के महीने में आती है हिन्दू पंचांग के अनुसार जब लोग भगवन शिव के साथ नाग देवत की पूजा भी करते हैं | इस दिन की पूजा से जीवन में बहुत सी बाधाएं दूर होती है |

जो लोग अध्यात्मिक उन्नति चाहते हैं उनके लिए भी सावन का महिना बहुत उपयोगी है क्यूंकि इस महीने मे बारिश भी होती है जिससे मौसम न ज्यादा थाना होता है ना गर्म अतः साधना के लिए उपयुक्त वातावरण देता है ये महिना इसीलिए इस महीने में लोग शिव पूजा में लगे रहते हैं |

भारत में १२ ज्योतिर्लिंग सबसे प्राचीन माने जाते हैं और सावन के महीने में इन १२ शिव मंदिरों में सबसे ज्यादा भीड़ देखने को मिलती है, भारत ही नहीं विदेशो से भी लोग इन 12 ज्योतिर्लिंगों में दर्शनों के लिए आते हैं | 


जानिए शिव मंदिर जहाँ पर चढ़ती है शराब

आइये जानते हैं १२ ज्योतिर्लिंगों के नाम :

  1. केदारनाथ जो की उत्तराखंड में है |
  2. सोमनाथ जो की गुजरात में है |
  3. ओम्कारेश्वर जो की मध्यप्रदेश में है |
  4. भीमाशंकर जो की पुणे में है |
  5. महाकालेश्वर जो की उज्जैन मध्य प्रदेश में है |
  6. कशी विश्वनाथ जो की वाराणसी, उत्तर प्रदेश में है |
  7. बैद्यनाथ जो की देवघर, झारखण्ड में है |
  8. नागेश्वर ज्योतिर्लिंग जो की द्वारका गुजरात में है |
  9. मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग जो की श्रीसेलम में है |
  10. त्र्यम्बकेश्वर जो की नाशिक में है |
  11. घ्रिश्नेश्वर जो की औरंगाबाद महाराष्ट्र में है |
  12. रामेश्वर ज्योतिर्लिंग जो की तमिलनाडु में है |

तो सावन के महीने में इन सभी सबसे प्राचीन शिव मंदिरों में सबसे ज्यादा भक्तो को हम देख सकते हैं | सभी अपनी मनोकामना को पूरी करने के लिए भक्ति भाव से शिवलिंग की पूजा करते हैं |

इस साल २०२१ में सावन का महिना 25 जुलाई से शुरू होगा और 22 अगस्त तक रहेगा |

भगवन शिव की पूजा के लिए सबसे आसान मन्त्र है “ॐ नमः शिवाय ”

भक्तगण  शिव के पंचाक्षरी मन्त्र का जप अधिक से अधिक करते हैं और शिव की कृपा प्राप्त करते हैं |

तो आप भी श्रावण के महीने में भगवन भोलेनाथ का आशीर्वाद प्राप्त करिए और बनाइये अपने जीवन को धन्य |

शिव कृपा से सभी सुखी हो, सबका कल्याण हो |

मिलते हैं अगले लेख में तब तक के लिए आप सभी को नमस्ते|

shravan month importance as per astrology, Kyu Lagti Hai Shiv Mandiro Mai Bheed Shrawan Ke mahine Mai

shiv temple where wine is offer

 किस शिव मंदीर में चढ़ती है शराब, क्या होता है फिर | In which Shiva temple alcohol is offered, what happens then?

शिवजी की पूजा भंग, धतुरा, पंचामृत, दूध, जल से होती हम सबने देखि है परन्तु कैसे लगेगा जब आपको पता चलेगा की भारत में एक ऐसा गाँव है जहाँ पर शिवजी को भोग के लिए लई और शराब चढ़ाई जाती है |

shiv mandir jaha chadhti hai sharab
shiv temple where wine is offer


जी हाँ ! ये मंदिर प्रसिद्ध तो नहीं है परन्तु इस मंदिर में शराब चढ़ती है और लोगो की मनोकामना पूरी होती है |

आइये जानते हैं कहा पर है ये अद्भुत शिव मंदिर ?

उत्तरप्रदेश में सीतापुर से लगभग 73 किलोमीटर दूर अटवा कुरसठ गाँव आता है | इसी गाँव के शिव मंदिर में चढ़ती है शराब और लई |

और यही नहीं बन्दर इन्हें बढे शौक से खाते है और पीते हैं |

बरसो से भक्त यहाँ पे यही प्रसाद चढाते आ रहे हैं और शिवजी के साथ बन्दर भी ग्रहण करते हैं |


पढ़िए क्यों लगती है शिव मंदिरों में भीड़ सावन में 

आइये जानते हैं इस मंदिर की कुछ ख़ास बाते :

  1. ये शिव मंदिर पुरी तरह से खुला हुआ है अर्थात इस मंदिर में कोई दरवाजा या खिड़की नहीं है |
  2. जंगल में होने के कारण इस मंदिर की देखभाल के लिए कोई पुजारी नहीं है | यहाँ पे सब अपने हिसाब से आते हैं और पूजन करते हैं | यहाँ जाने के लिए सबको अपने ही साधन प्रयोग करना होता है |
  3. यहाँ पर बन्दर बहुत है और ये लोग मदिरा और लई का भोग लगाते हैं |
  4. मिटटी या प्लास्टिक के ग्लास में शराब शिवलिंग के पास रखा जाता है जिसे बन्दर जाके पी जाते हैं और लाई खा जाते हैं |
  5. इस शिव मंदिर को सन 1992 में राजेश कुमार सिंह ने बनवाया था और इनका नाम यहाँ लिखा हुआ है |
  6. मंदिर बनाने वाले कारीगर का नाम (राम गुलाम सिंह सूर्यवंशी )भी यहाँ पे लिखा हुआ है 

तो अगर आप भी इस मंदीर में जाना चाहते हैं तो जाके मदिरा/शराब का भोग लगा सकते हैं |

source :dainik bhaskar

Watch video here:

In which Shiva temple alcohol is offered, what happens then?

We have all seen the worship of Shiva with Bhang, Dhatura, Panchamrit, milk, water, but how will it feel when you will come to know that there is a village in India where liquor is offered to Shiva to fulfill wishes. 

Yes ! This temple is not famous, but alcohol is offered in this temple and the wishes of the people are fulfilled.

Let us know where is this wonderful Shiva temple?

Atwa Kursath village is about 73 km from Sitapur in Uttar Pradesh. Liquor and Laai(a food) are offered in the Shiva temple of this village.

And not only this, monkeys eat and drink them with great passion.

Since many years, devotees have been offering this prasad here and monkeys also take it along with Shiva.

Let us know some special things about this temple:

  1. This Shiva temple is completely open i.e. there is no door or window in this temple.
  2. Being in the forest, there is no priest to take care of this temple. Here everyone comes and worships according to their own comfort. Everyone has to use their own means to go here.
  3. There are many monkeys here and they drink the liquor offered by devotees.
  4.  Liquor is kept near the Shivling in clay or plastic glasses, monkey come and drink the wine and eat the laai food. 
  5. This Shiva temple was built by Rajesh Kumar Singh in the year 1992 and his name is written here.
  6. The name of the artist is also written here who built the temple (Ram Ghulam Singh Suryavanshi) .

So if you also want to go to this temple, then you can go and offer liquor and watch monkeys enjoying it.

 किस शिव मंदीर में चढ़ती है शराब, क्या होता है फिर | In which Shiva temple alcohol is offered, what happens then?

Free Registration For Life partner Seeker