Skip to main content

Posts

Showing posts with the label love phobia and treatment

Janmashtmi date and tips for success

when is Krishna Janmashtmi 2022, planetary positions during krishna birthday celebration, astrology significance and what to do for success,  How to perform janmashtami pooja at home? If you are devotee of lord krishna then you must know about the janmashtmi festival which is popular all over the world. Specially in ISKON temples this festival is celebrated with great excitement. This is the day when lord krishna took birth in this earth to protect saints, devotees from negative energies, to establish dharama, to show right path to humanbeings. In the year 2022 ashtmi tithi will start at 9:22 PM on 18th of august and remain till 11:09 PM of 19th of august. Janmashtmi date and tips for success Krishna is believed to be the incarnation of lord vishnu and this divine process of taking birth took place in the midnight of Ashtmi tithi of bhadrapad month in rohini nakshatra. as per hindu calender. Celebration Of krishna Janmashtmi: This is the day for which devotees of krishna waite

sahwaas mai discharge jaldi ho jata hai kya kare

शीघ्र स्खलन क्यों होता है, डालते ही गिर जाता है घरेलू उपाय, जल्दी गिर जाता है उसकी दवा, जल्दी गिर जाता है उपाय बताइए, जानिए हिंदी में जल्दी डिस्चार्ज समस्या का समाधान | ये एक आम समस्या है जिससे बहुत लोग परेशां रहते हैं, सम्बन्ध बनाने के समय कुछ लोग शुरूआत में ही डिस्चार्ज हो जाते हैं, कुछ लोग अपने साथी को चरम सुख तक पंहुचा ही नहीं पाते हैं और ढीले हो जाते हैं |  तो इस लेख में हम जानेंगे की शीघ्र पतन के कारण क्या हो सकते हैं, इसे कैसे रोके, घरेलु उपाय क्या है आदि | sahwaas mai discharge jaldi ho jata hai kya kare अंग्रेजी में इसे प्रीमैच्योर इजैकुलेशन कहते हैं जो की शर्मिंदगी का एक कारण हो सकता है अपने साथी के सामने | इसके कारण पत्नी असंतुष्ट रह जाती है और अगर ये सिलसिला लगातार चले तो फिर पति पत्नी में दूरियां भी बढ़ने लगती है, अनैतिक सम्बन्ध बनने लगते हैं और कई बार तो तलाक तक की नौबत आ जाती है| अतः इसका उपाय जरुर करना चाहिए | और सबसे बड़ी समस्या ये है की लोग अपनी इस कमी के बारे में खुलके बात नहीं कर पाते हैं ये सोच के की अगर दुसरो को पता चलेगा तो क्या कहेंगे | आइये जानते है इसके लक

Scopophobia kya hota hai

Scopophobia  क्या होता है ?, स्कोपोफोबिया के लक्षण क्या होते हैं, ट्रीटमेंट क्या है ?, दुसरो से देखे जाने का डर कैसे जीवन बिगाड़ता है | स्कोपोफोबिया से कोई भी ग्रस्त हो सकता है अर्थात पुरुष , महिला, लड़का , लड़की और इसके कारण उनके काम सही तरीके से चल नहीं पाते हैं, जीवन शैली असामान्य रूप से चलता है | स्कोपोफोबिया के अंतर्गत व्यक्ति को दूसरे से घूरे जाने का डर होता है और इसके कारण वो बैचेन रहता है और कार्यो को खुलके नहीं कर पाता है |  पढ़िए छुए जाने का डर क्या होता है ? Scopophobia kya hota hai कुछ लोग विचलित हो जाते हैं अगर उन्हें कोई देखने लगता है और ये एक बहुत बड़ी बिमारी का रूप ले लेती है | ये अगर बढ़ जाए तो व्यक्ति का काम काजी जीवन ख़राब होने लगता है, शादी शुदा जिन्दगी ख़राब होने लगती है, सामाजिक जीवन नहीं बन पाता है | स्कोपोफोबिया से ग्रस्त व्यक्ति डर में जीने लगता है, हमेशा घबराहट रहती है, बात करने में हकला सकता है, जीवन साथी से सम्बन्ध बनाने में झिझकता है  आदि | देखा जाए तो स्कोपोफोबिया घूरे जाने का अत्यधिक डर है। व्यक्ति ऐसा सोचने लगता है की उसकी जांच की जा रही है और ये सोच के वो अ

Tokophobia kya hota hai mahilaao mai

गर्भावस्था का डर क्या है, टोको फोबिया अर्थ, टोकोफोबिया का उपचार, टोकोफोबिया के लक्षण, what is tokophobia (fear of pregnancy), गर्भवती होने के डर के लक्षण। कुछ महिलाओं में एक अजीब डर पैदा हो जाता है जिसके कारण उनका सम्बन्ध अपने पति के साथ भी बिगड़ जाता है, वे दूर रहने लगती है, इस डर को कहते हैं टोकोफोबिया, इसके अंतर्गत महिला को बच्चे के जन्म को लेके डर रहता है जैसे की बच्चा कहीं मर गया तो, उसे चोट लग गई तो, कहीं बच्चे में कोई गंभीर बिमारी निकली तो आदि | Tokophobia kya hota hai mahilaao mai टोकोफोबिया के कारण कुछ महिलाए गर्भ धारण करने से बचती हैं और पति से शारीरिक सम्बन्ध बनाने से भी बचती हैं, ऐसी महिलाए खुलके जीवन का आनंद नहीं लेती है |  पढ़िए छुए जाने के डर के बारे में जिसके कारण जीवन साथी दूर दूर रहता है | टोकोफोबिया २ प्रकार के महिलाओं में देखा जाता है : जो पहली बार गर्भ धारण करती है और उन्होंने दुसरो की तकलीफ को देखा है | वो महिलाए जिनको पहली बार में बहुत ज्यादा पीड़ा हुई हो और जिनके साथ कोई अनहोनी हुई हो |  किसी भी महिला के लिए बच्चे को जन्म देना एक महत्त्वपूर्ण घटना होत

Medomalacuphobia kya hota hai

Medomalacuphobia क्या होता है , इसके क्या लक्षण होते हैं, कौन इससे ज्यादा ग्रस्त हो सकता है, मेदोमालाकुफोबिया का इलाज क्या है ?, पुरुष की कमजोरी से सम्बंधित रोग | ये डर पुरुषो में होता है और इसके अंतर्गत शारीरिक सम्बन्ध बनाने के समय ढीले हो जाने का डर होता है अर्थात इरेक्शन खोने का डर होता है | इसमें पुरुष को शर्मिंदा होना पड़ता है और यही उसे अपने साथी के पास जाने से रोकता है |  ये मानसिक के साथ ही शारीरिक बीमारी होती है, सही इलाज लेने पे इससे छुटकारा संभव है |  Medomalacuphobia kya hota hai आइये जानते हैं की मेडोमलाकूफोबिया के लक्षण क्या हो सकते हैं ? ऐसे पुरुष जिन्हें ढीले होने का डर होता है वे लोग जब भी शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए आगे बढ़ते हैं या फिर यू कहे की जब भी उनकी पत्नी उनके करीब आना चाहती है तो इन्हें पसीना आने लग सकता है, शरीर का तापमान बिगड़ने लगता है, सांस लेने में तकलीफ होने लग सकती है, घुटन हो सकती है, दिल की धड़कन असामान्य रूप से बदल जाती है, जी मचला सकता है, चक्कर आ सकते हैं, मुह सूखने लगता है, शौच करने जाना पड़ता है आदि | ऐसे लोग बहुत चिडचिडे हो जाते हैं और अप

हेप्टोभोबिया chune ka dar kya hota hai

हेप्टोभोबिया क्या होता है, इसके लक्षण या है, कौन लोग इससे ज्यादा परेशां रहते हैं, क्या उपचार है हेप्टोभोबिया का | सम्बन्ध बनाने से डर क्यों लगता है कुछ पुरुष और महिलाओं को, जानिए विभिन्न प्रकार फोबिया के बारे में जो की रोकते हैं खुल के अपने साथी के साथ जीवन का मजा लेने के लिए | ऐसे बहुत से पुरुष और महिलायें हैं जिन्हें शारीरिक सम्बन्ध बनाना बिलकुल भी पसंद नहीं आता है और इसके पीछे होता है कोई डर और यही डर उनके शादी शुदा जीवन को बर्बाद कर देता है | ऐसे लोग सिर्फ अपना ही जीवन बर्बाद नहीं करते हैं अपितु जिनके साथ विवाह कर लेते हैं उनका भी जीवन तबाह हो जाता है और बाद में खूब लड़ाई झगडे होते हैं, तलाक की नौबत आती है या फिर साथी अनैतिक सम्बन्ध बनाने लगता है |   पढ़िए संबंधो को लेके कुछ भ्रांतियां  तो आज के इस लेख में हम जानेंगे एक ऐसे ही डर के बारे में जो की शारीरिक सम्बन्ध बनाने से रोकता हैं | हेप्टोभोबिया (haptophobia): ये एक विशेष प्रकार का तर्कहीन डर है जिसमे की महिला या पुरुष को सम्बन्ध बनाने के लिए छुआ जाने का एक तीव्र डर होता है | जिनको ये डर होता है वो अन्दर ही अन्दर डरते रहते