Saliva As Alternative Medicine

Saliva as alternative medicine, how to save our saliva, use of saliva in treatment, वैकल्पिक चिकित्सा में लार का स्तेमाल, कैसे बचाए अपने लार को, कैसे प्रयोग करे लार का बीमारियों को दूर करने के लिए.
Saliva as alternative medicine, how to save our saliva, use of saliva in treatment, वैकल्पिक चिकित्सा में लार का स्तेमाल, कैसे बचाए अपने लार को, कैसे प्रयोग करे लार का बीमारियों को दूर करने के लिए.
Saliva As Alternative Medicine
Saliva is a very common watery substance which is present in the mouth of animals, human etc. It is made by SALIVARY GLANDS .This saliva has magical healing power and if we know about the powers of saliva then no doubt we can over come from many problems easily.
Saliva is a medicine which is developed automatically in our mouth. It is a gift of that universal power to us. We often see that animals heal there any wounds just by licking them. This shows that saliva has healing power. 
In this article we will know secrets of saliva so that we can use them to make our life healthy. 

Let’s Understand Saliva:

Human saliva consists of 98% water and rest of the 2% contains electrolyte, mucus, antibacterial compound, and enzymes, etc.
  • It is necessary for good digestion of food which we take. 
  • Saliva helps to chew our food and swallow it without any problem. 
  • It fights with germs present in mouth and keeps it healthy. 
  • Saliva also prevents tooth decay.
  • It also saves our gums from diseases. 
  • Now Let’s See Some Easy Use Of Saliva:
  • If you have worms in stomach then do drink water in the morning just after waking up, the morning saliva get inside and helps to kill the worms.
  • If you are having digestion problem for long time then try to perform SALIVA YOGA. In this actually more and more saliva taken with extra efforts.
  •  If eczema is creating problem then do this home remedy, in the morning just after getting up , apply your saliva for one month and you will get magical result. 
  • To remove the sign of burn from skin apply saliva regularly for approx 2 month and see the result.
  • If you are having fungal infection then also you can use your saliva regularly. It will heal it.
  • If you are having itching problem nearby sex organs then also apply saliva there and see the positive result. 
  • It is a lubricant for dry eyes. 
  • Some also use it to get-rid of acne problems, for this it is recommended to apply saliva on acne regularly.
So saliva is a special medicine which forms in our mouth automatically regularly. If we use it in a better way then no doubt we can remove our many problems easily. 

How one harm saliva?

  • Some bad habits are dangerous for saliva which in long run generates many health problems.
  • Smoking is dangerous for saliva.
  • Chewing tobacco is also dangerous, it pollutes the saliva. 
  • Don’t spit too much, it is not a good habit and affects our body. 
Save the precious saliva and heal yourself easily and naturally.

आइये अब जानते हैं हिंदी में लार के फायदे के बारे में –

लार सभी के मूंह में पाई जाती है , मनुष्य हो या जानवर सभी लार से परिचित है. इसका निर्माण सेलिवरी ग्लैंड के द्वारा होता है. लार के अन्दर उपचार करने की जादुई शक्ति पाई जाती है, जब हम इसके बारे में और जानेंगे तो इसमें कोई शक नहीं की हम कई समस्याओं से बच सकते हैं. 
लार एक दावा है जो की अपने आप हमारे मूंह में बनती रहती है. ये हमे प्रदान किया गया वरदान है. हमने जानवरों को अक्सर अपने घावों को चाटते हुए देखा होगा, वे चाटकर ही अपने घावों को ठीक कर लेते हैं. इससे ये साबित होता है की लार में उपचार की शक्ति होती है. 
इस लेख में हम लार के बारे में और जानेंगे जिससे स्वस्थ रह सके. 

आइये जानते हैं लार के बारे में :

  • मानव लार ९८% जल से बना है शेष २% में इलेक्ट्रोलाइट, बलगम , जिवानुरोधी यौगिक और एंजाइम्स रहते हैं. 
  • भोजन के अच्छे पाचन के लिए लार बहुत आवश्यक होता है. 
  • लार भोजन को चबाने में और उन्हें निगलने में मदद करते हैं. 
  • ये मूंह में कीटाणुओं से भी लड़ता है और मूंह को स्वस्थ रखता है. 
  • लार दांतों को गिरने से भी बचाता है. 
  • ये हमारे मसुडो को भी स्वस्थ रखता है. 

आइये अब जानते हैं लार के कुछ आसान उपाय :

  1. अगर पेट में कीड़े हो तो सुबह जल्दी उठ के बासी मूंह पानी पियें , इससे पेट के कीड़े मरते हैं और पेट साफ़ भी अच्छा होता है. 
  2. अगर आपको अपच की समस्या है तो सलाइवा योग करे. इसका अर्थ हिया ज्यादा से ज्यादा लार को अन्दर निगले दिनभर. 
  3. अगर दराद हो गई हो तो सुबह उठके अपने लार को उसमे लगाए १ महीने लगातार और देखिये चमत्कारी परिणाम. 
  4. जले का निशान अगर आपको परेशान कर रहा हो तो २ महीने तक अपने लार को लगाए वहाँ और देखिये असर.
  5. अगर शारीर में कही फंगल संक्रमण हो तो भी लार का उपयोग करके आप उससे छुटकारा पा सकते हैं. 
  6. अगर गुप्तांगो के आस पास खुजली हो तो भी आप अपने लार को वह लगातार लगा के उससे निजात पा सकते हैं. 
  7. सूखी आँखों के लिए ये चिकनाई का काम करता है, इसे काजल जैसा लगाना चाहिए. 
  8. मुंहासो से मुक्ति के लिए भी आप इसका प्रयोग कर सकते हैं. सुबह उठके अपनी लार को लगाए मुंहासो पर. 

अतः लार एक विशेष प्रकृति दवा है जो की हमारे शारीर में खुद ब खुद पैदा होता रहता है. अगर इसका स्तेमाल हम सही तरीके से करे तो इसमें कोई शक नहीं की निरोग काया को प्राप्त कर सकते हैं और कई समस्याओं से आसानी से मुक्त हो सकते हैं. 

आइये जानते हैं की कैसे कोई अपने लार को नुक्सान पहुचा सकता है ?

  • कुछ गन्दी आदतों से लार को नुक्सान होता है और लम्बे समय में इससे कई रोग उत्पन्न होते हैं जैसे –
  • धुम्रपान करने से लार को नुक्सान पहुँचता है.
  • तम्बाखू खाने से लार गन्दा होता है और नुक्सान करता है. 
  • ज्यादा थूकने से भी लार ख़त्म होने लगती है और फायदा नहीं हो पाता है. 
  • अपने लार को बचाए और अपने शारीर को  खुद ही ठीक करे आसानी से और प्राकृतिक रूप से. 


Read more Related Articles on:
Black Pepper for healthy life
Dry Ginger Benefits
Benefits of onions

Benefits of Sprouts 
Benefits of Shatawari
Difference between white rice and brown rice
Saliva as alternative medicine, how to save our saliva, use of saliva in treatment, वैकल्पिक चिकित्सा में लार का स्तेमाल, कैसे बचाए अपने लार को, कैसे प्रयोग करे लार का बीमारियों को दूर करने के लिए.

No comments:

Post a Comment