Petya Virus Jaankari In Hindi

क्या है पेटया वायरस, कैसे ये रेंसमवेअर हमारे कंप्यूटर पर हमला करता है, कैसे बचे पेटया वायरस से.
क्या है पेटया वायरस, कैसे ये रेंसमवेअर हमारे कंप्यूटर पर हमला करता है, कैसे बचे पेटया वायरस से.
Petya Virus Jaankari In Hindi
वायरस बनाने वाले लोग लगातार उपलब्धियां हासिल कर रही है, उनकी सफलता इस बात पर निर्भर करती है की उनको कोई पकड़ न पाए और वो सफल हो जाए अपने काम में, और ये हो रहा है. वायरस बनाने वाले आसानी से साइबर हमला करते है और करोड़ो रुपए कम लेते हैं, विकसित देश भी इस हमले को रोकने में नाकाम है. 
२ महीने में ये दूसरा हमला हुआ है भारत और दुसरे देशो में जिसे पकड़ने में कोई सफल नहीं हो पाया है.
इन दिनों एक नया वायरस साइबर अटैक के लिए प्रयोग में लाया गया है. साइबर हमला करने वालो का मुख्य निशाना यूरोप, भारत, यू.के. फ्रांस, स्पेन आदि है. पूरी दुनिया के एक्सपर्ट्स इनको पकड़ने में लगे है पर सफल नहीं हो पा रहे है.
इस रैनसमवेअर का नाम है पेटया वायरस, ये पुराने वायरस का एडवांस वर्शन है जिसे २०१६ में पता किया गया था. 
इस वायरस का सबसे ज्यादा प्रभाव युक्रेन को हुआ है जहाँ के सरकारी दफ्तर, बिजली कंपनियां, बैंक, एयर लाइन्स, पोस्ट ऑफिस बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं इस पेटया वायरस से.

क्या है पेटया वायरस?

ये एक प्रकार का एन्क्रिप्टिंग रेंसमवेअर है जिसे २०१६ में खोजा गया था. इस के द्वारा हमलावर बिट कॉइन या फिर एनी करेंसी में धन मांगता है. इस वायरस का मुख्य टारगेट माइक्रोसॉफ्ट विंडोज से चलने वाले सिस्टम होते हैं. ये काफी हद तक “WANNACRY” जैसा है.

आइये जानते हैं कैसे पेटया वायरस हमारे कंप्यूटर पर असर करता है?

ये मास्टर बूट रिकॉर्ड पर अपना नियंत्रण करता है.
ये वायरस NTFS फाइल टेबल को एन्क्रिप्ट करता है और प्रयोगकर्ता को मेसेज दिखने लगता है की रूपए दे सिस्टम पर काम करने के लिए.
kya message dikhata hai petya virus, ransomeware message
petya virus ka message

आइये अब जानते हैं की रैनसमवेअर क्या होते हैं?

ये एक प्रकार का ख़राब प्रोग्राम होता है जो की मजबूर करता है शिकार व्यक्ति को की मांगी गई रकम अदा करे कंप्यूटर पर काम करने के लिए. 
ये साधारणतः ईमेल के द्वारा भेजे जाते हैं परन्तु कुछ तो अपने आप एक कंप्यूटर से दुसरे कंप्यूटर पर चले जाते हैं. अतः ये सभी के लिए बहुत हानिकारक है. 

कैसे बचे पेटया वायरस हमले से?

ये वायरस व्यक्ति को अपने ही कम्पुटर पर काम नहीं करने देते हैं जब तक वो मांगी गई रकम नहीं देता. इनका मुख्य निशाना मल्टीनेशनल कंपनियां है, सरकारी दफ्तर हैं, बंदरगाह है, हॉस्पिटल्स है.

आइये जानते हैं की कैसे बचे रेनसमवेअर हमले से :

  1. किसी भी ऐसे ईमेल को न खोले जिसमे थोडा भी शक हो. 
  2. अगर किसी ईमेल पर डाउनलोड करने के लिए रिक्वेस्ट आये तो न करे. 
  3. अपने दाता का बैकअप रोज ले तो और अच्छा है. 
  4. अपने सुरक्षा उपकरणों और प्रोग्राम्स को रोज अपडेट कर ले. 
  5. असुरक्षित वेबसाइट्स पर सर्फिंग न करे.
  6. जब तक किसी फाइल की जानकारी न हो उसे डाउनलोड न करे. 
और सम्बंधित लेख पढ़े:
Petya Virus Attack In english
ZIKA virus in India

क्या है पेटया वायरस, कैसे ये रेंसमवेअर हमारे कंप्यूटर पर हमला करता है, कैसे बचे पेटया वायरस से.

No comments:

Post a Comment