Asparagus Or Shatawri Benefits

What is Asparagus or shatawri?, uses of shatawri, advantages of asparagus, क्या है शतावरी, क्या फायदे होते हैं शतावरी के.
What is Asparagus or shatawri?, uses of shatawri, advantages of asparagus, क्या है शतावरी, क्या फायदे होते हैं शतावरी के.
Asparagus Or Shatawri Benefits
Asparagus or shatawri is one of the best medicinal plant which help to get-rid of many diseases. In ayurveda this plant is said to be very important which is beneficial for everyone. 
In hindi we call it SHATAWRI/शतावरी .

Let’s Know Some Benefits Of Asparagus/Shatawri:

  1. This is very good to CONTROL WEIGHT. If anyone take it under guidance then Asparagus remove extra fat from body.
  2. Asparagus is a also good for MIGRAINE patients. The oil of shatawri gives relax in migraine pain. For this take out the juice of Asparagus root , now mixed it with sesame oil in equal quantity. Cook it for some time, use this in migraine. 
  3. Asparagus powder is also very helpful in FEVER. It is taken with milk or water to getrid of fever.
  4. Asparagus/shataawri develops IMMUNITY POWER. It is full of antibiotic quality and anti-ulcer quality too. So it is good for stomach problem too and develops immunity power.
  5. Asparagus is good for LIVER. 
  6. It is helpful in getting sound sleep. If anyone is having sleeping problem then it is suggested to take approx 10 gram of shataawri powder with desi ghee or milk before sleeping. 

So use asparagus/shataawri and live a healthy life. 

आइये जानते हैं हिंदी में शतावरी के बारे में :

शतावरी एक अच्छा औषधीय पौधा है जिसका स्तेमाल कई बीमारियों में किया जाता है. आयुर्वेद में इसे बहुत महत्त्व प्राप्त है जो की हर वर्ग के महिला पुरुष के लिए फायदेमंद है.
अंग्रेजी में इसे asparagus कहते हैं.

आइये जानते हैं शतावरी के फायदे :

  • इसका प्रयोग वजन को नियंत्रित रखने के लिए किया जाता है आयुर्वेद में. इसके प्रयोग से अतिरिक्त चर्बी कटती है जिससे की वजन नियंत्रित रहता है. 
  • शतावरी  माइग्रेन रोग में भी फायदेमंद है, इसके लिए इसका तेल प्रयोग में लिया जाता है. शतावरी  के जड़ को पीस के रस निकाले और बराबर मात्रा में तिल के तेल के साथ मिला दे. फिर इसे पका ले. माइग्रेन होने पर इसे लगाए, आराम मिलेगा. 
  • शतावरी  का पाउडर बुखार भी उतारता है. इसके लिए इसका स्तेमाल दूध या फिर पानी से किया जाता है. 
  • शतावरी  रोग-प्रतिरोधक क्षमता भी बढाता है. इसमें एंटीबायोटिक गुण है साथ है एंटी अलसर के गुण भी है जिससे की पेट के रोगों में बहुत फायदेमंद होता है. 
  • शतावरी  लीवर के लिए भी बहुत अच्छा होता है. 
  • निद्रा की समस्या होने पर भी शतावरी  का प्रयोग लाभदायक होता है. इसके लिए १० ग्राम शतावरी का चूर्ण दूध या देशी घी के साथ सोने से पहले लेने की सलाह दी जाती है.
अतः शतावरी का प्रयोग अपने आयुर्वेदिक सलाहकार से परामर्श लेके करे और स्वस्थ जीवन व्यतीत करे.



Read more Related Articles on:
Black Pepper for healthy life
Dry Ginger Benefits
Benefits of onions
Saliva in alternative medicines
Benefits of Sprouts 

Difference between white rice and brown rice  
What is Asparagus or shatawri?, uses of shatawri, advantages of asparagus, क्या है शतावरी, क्या फायदे होते हैं शतावरी के.

No comments:

Post a Comment